घर-घर में नल के द्वारा जल पहुंचाने के लिए समयबद्ध कार्यक्रम तैयार कर युद्धस्तर पर अभियान चलाएं- सीएम उध्दव ठाकरे

 

मुंबई  – जल जीवन मिशन के अंतर्गत वर्ष 2024 तक राज्य के ग्रामीण क्षेत्र में 1 करोड़  42 लाख 36 हजार नल कनेक्शन देने का लक्ष्य है। यह लक्ष्य भले ही बड़ा हो फिर भी यह पुण्य का काम है और इसे हमें करना ही होगा। वर्ष 2024 तक नल कनेक्शन का लक्ष्य को पूरा करने के लिए समयबध्द कार्यक्रम तैयार कर उसका सभी यंत्रणा ने युद्ध स्तर पर क्रियान्वयन करने के निर्देश मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आयोजित बैठक में दिये। 

            मुख्यमंत्री श्री.ठाकरे की अध्यक्षता में हुई बैठक में जल जीवन मिशन नियोजन एवं क्रियान्वयन के कामों का जायज़ा लिया गया, इस अवसर पर वे बोल रहे थे।   

निधि की कमी नहीं होने देंगे

            राज्य का नल कनेक्शन का लक्ष्य पूरा करने के लिए जल जीवन मिशन के अंतर्गत जितना निधि आवश्यक होगा,  उतना निधि उपलब्ध कराया जाएगा। इसके लिए निधि की कमी नहीं होने देंगे, यह आश्वासन भी  मुख्यमंत्री श्री. ठाकरे ने इस दौरान संबंधितों को दिया। 

पर्याप्त मानव संसाधन उपलब्ध करें

            जल जीवन मिशन के कामों को गति देने के लिए जल आपूर्ति विभाग के अंतर्गत जो पद रिक्त होंगे, उन पदों पर भर्ती होने तक आवश्यक अभियंताओं की सेवा अस्थायी रूप से बाह्ययंत्रना के जरिये ली जाए और अन्य विभागों के पदों का भी जायज़ा लेकर और भी आवश्यक अभियंता उस विभाग की ओर से उपलब्ध कराए जाए, ताकि कामों को गति मिल सके। साथ ही इसका जायज़ा लेने के लिए मुख्य सचिव बैठक आयोजित करें, यह सूचना भी मुख्यमंत्री श्री. ठाकरे ने इस दौरान संबंधितों को की। 

             जलापूर्ति एवं स्वच्छता मंत्री गुलाबराव पाटिल ने कहा कि  जल जीवन मिशन अंतर्गत प्रत्येक घर तक नल कनेक्शन  के माध्यम से जल पहुंचाने के लिए इस साल के लिए 7 हजार 64 करोड़ रुपये निधि प्राप्त हुआ है और इतना ही निधि  राज्य सरकार ने भी उपलब्ध कराया है। इस तरह से 14  हजार 128 करोड़  रुपए उपलब्ध होंगे।

              जल जीवन मिशन यह एक अभियान है, यह एक उत्सव है। इसमें सभी की सहभागिता होना जरूरी है। ‘हर घर जल, हर घर नल’  की तरह प्रत्येक घर तक जल पहुंचाने के लिए जलापूर्ति एवं स्वच्छता विभाग प्रयासरत है।  नल कनेक्शन का लक्ष्य पूरा करने के लिए समयबध्द रूप से यह कार्यक्रम चलाए जाने की सूचना श्री. पाटील ने इस दौरान की।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button