Chanakya Niti in Hindi All Ultimate Secret

Chanakya Niti in Hindi

Chanakya Niti in Hindi All Ultimate Secret

अगर चाणक्य नीति को बहुत ही सरल भासा में समजा जा सकता है तो वह इस प्रकार है ! जब इन्सान अपनी जिन्दगी में सफलता पाने के लिए बार बार मेहनत करता है ! और फिर भी असफल हो जाता है ! तो उसे निरास होने की जरूत नहीं है ! वह इन्सान बहुत कम मेहनत करके चाणक्य नीति को अपना कर बहुत जल्दी सफलता हासिल कर सकता है ! यही चाणक्य निती है ! बस इसे समजना पड़ता है ! आइये जानते है Chanakya Niti in Hindi All Ultimate Secret

Who was Chanakya

चाणक्य एक आचार्य थे जो की बाद में जाकर एक विद्वान बन गये ! चाणक्य ने तक्षशिला से अपने निवास स्थान पाटलिपुत्र में शिक्षा प्राप्त की

और राजनीति के एक उत्साही प्रोफेसर बन गए ! उन्होंने हमेशा देश को एक साथ बांधने की कोशिश की ! इन्होने भारत के हर एक जगह पर घूम कर अपनी शिक्षा का प्रचार प्रसार किया !

इन्होने अपने जीवन में एक सामान्य आदमी से लेकर बड़े बड़े विद्वानों को एक साथ बांधे रखा ! और रास्ट्र के प्रति जागरूक किया

चाणक्य नीति को इस प्रकार समझते है

चाणक्य नीति के Ultimate Secret को समझने के लिए आप नीचे दिए बिन्दुओ पर ध्यान केन्द्रित करना ! आप समझ पाओगे की यह एक गुप्त नीति है इसे समझना जितना सरल है उतना ही कठोर है !

क्या बोला था चाणक्य ने की दुसरो की गलतियों से सीखना चाहिए अगर आप अपनी गलतियों से सीखे तो आपकी उम्र कम पड़ेगी

कुछ इसी तरह का ज्ञान है इस निति में आगे की स्लाइड में ध्यान से समझते है

Chanakya Niti Darpan

चाणक्य नीति बखान करती है की आचार्य चाणक्य जिन पर भारत को आज तक गर्व है ! इन्होने कर्म की वेदी पर मन की भावनाओ की होली जलाई !

चाणक्य नीति बुक हमे यह बताती है की यह भारत के महान अध्यापक होने के साथ साथ विख्यात राजनेता और वो संयमी और प्रतिभा के धनी थे !

आप अधिक जानकरी के लिए चाणक्य नीति दर्पण पुस्तक free में download यहाँ से कर सकते है ! यह पुस्तक संस्क्रत और हिंदी भासा दोनों में उपलब्ध है download

Chanakya Niti Quotes

आचार्य चाणक्य के कुछ महान विचार जो बहुत ही अनमोल और अनसुने है

1 . जिस तरह से हजारो गायो के पीछे पीछे उसका बछड़ा चलता है ! उसी तरह इन्सान के कर्म भी उसके पीछे ही चलते है !

2 . यह अनमोल विचार भी आचार्य चाणक्य का ही है की विधा की चोरी चोर नहीं कर सकता

3 . आदमी अपने जन्मो से नहीं कर्मो से महान होता है

4 . आप भविष्य में क्या करने वाले हो यह किसी को मत बताओ

5 . आपकी आत्मा ही आपका मंदिर है ! आपकी भावना ईश्वर है ! क्योकि ईश्वर कभी भी मूर्तियों में नहीं होता

6 . जिस तरह से एक गधे के लिए आईना महत्व रखता है उसी तरह पुस्तक एक नीच इन्सान के लिए महत्व रखती है !

7 . संकट में बुद्धि भी काम करना बंद कर देती है

Chanakya Niti Love

आचार्य चाणक्य ने प्रेम और विवाह को सुरक्षित रखने के लिए 4 सिधान्त दिए ! अगर आप भी अपने प्यार को बचाना चाहते है ! तो इन 4 सिधान्तो को जरुर अपनाये

1 . पत्नी को सम्मान :- आचार्य चाणक्य हमेशा बताते है की आप अपनी प्रेम कहानी को जीवन भर तक जीवित रखना चाहते है ! तो अपनी पत्नी को सम्मान देना शुरू करो !

2 . पराई स्त्री को स्पर्स ना करना : – जो इन्सान अपने जीवन साथी से अमिट प्रेम करता है ! वो कभी भी पराई स्त्री को स्पर्स नहीं करता है !

जो इन्सान पराई स्त्री को स्पर्स करता है वह कभी भी अपने जीवन साथी से सच्चा प्रेम कर ही नहीं सकता

3 . पार्टनर की सुरक्षा :- जिस व्यक्ति पर प्रेमी या पत्नी को इतना विश्वास रहता है कि वो किसी भी हालत में उनकी सुरक्षा के लिए तैयार रहेगा तो उस रिश्ते में कभी खटास नहीं आती !

प्रेमी या पत्नी की रक्षा करने वाला प्रेमी अपने रिश्ते में कभी असफल नहीं होता !

4 . प्रेमिका या पत्नी की संतुष्टि :- चाणक्य के मुताबिक प्रेम की मजबूती के लिए प्रेमिका या पत्नी की संतुष्टि होना बहुत जरुरी है !

जो इन्सान भोतिक सुख के साथ शारीरिक सुख बनाये रखने में कामयाब रहता है वो अपने प्यार का अनुभव जीवन भर तक कर सकता है !

5 Business ideas in Hindi low Investment

Chanakya Niti in Hindi For Success

चाणक्य नीति के ग्रन्थ में अध्याय नंबर 6 के श्लोक नंबर 16 में लिखा हुआ है ! की जिस तरह से शेर अपने पूरे फोकस के साथ शिकार पर टूटता है !

और उसे सफलता भी मिलती है ! उसी प्रकार अगर कोई इन्सान अपने पुरे फोकस के साथ सफलता पाने की कोशिश करे ! तो निश्चित उसे सफलता मिल ही जाती है !

चाणक्य ने कुछ् सफलता के लिए नियम बताये वो इस प्रकार है !

1 . बुढ़ापे में रोटी आपको आपकी ओलाद नहीं ! आपके दिए हुए संस्कार खिलायंगे

2 . माना आपको काफी सारे काम करने है ! लेकिन सबसे वो करो जिसमे आपको अत्यधिक लाभ हो !

3 . अगर गलती करने पर दण्ड रखा जाये तो 90 % गलतिया कम हो जाती है !

4 . सभी दुखो की जड लगाव है इसलिए खुश रहने के लिए लगाव छोड़ना पड़ेगा !

Chanakya Niti in Hindi For student

आचार्य चाणक्य ने विधार्थी की सफलता के लिए 8 नियम बताये जो इस प्रकार है !

1 . कामवाशना :- विधार्थी को इस प्रकार की सोच से दूर ही रहना चाहिए ! क्योकि कामवाशना student का पढाई से ध्यान हटाती है !

2 . क्रोध :- एक सफल student कभी भी किसी के ऊपर गुस्सा नहीं करता ! क्योकि गुस्सा करने से इन्सान की सोचने समझने की शक्ति ख़त्म हो जाती है ! इसलिए एक विधार्थी को कभी भी गुस्सा नहीं करना चाहिए !

3 . लालच :- लालच एक विधार्थी जीवन को नस्ट कर देता है ! इसलिए इससे बचकर रहना चाहिए !

4 . स्वाद :- एक विधार्थी को स्वादिस्ट भोजन नहीं खा कर संतुलित भोजन खाना चाहिए !

5 . सेवा :- student को हमेशा सेवा से दूर रहना चाहिए ! क्योकि सेवा में अधिक समय देने से उसका पढाई का समय नस्ट होता है !

6 . नींद :- एक इन्सान को 6 से 8 घंटे सोना काफी होता है लेकिन अगर आप इससे अधिक सोना पसंद करते है ! तो आपको आलस्य जैसे गतिविधियों का सामना करना पड़ सकता है !

7 . श्रंगार :- अधिक श्रंगार करने वाले विधार्थी का पढाई में मन नहीं लगता है ! इसलिए आप इससे दूर ही रहे

8 . मनोरंजन :- मनोरंजन करना बुरी बात नहीं है लेकिन एक विधार्थी के लिए बहुत बुरी बात है ! क्योकि ऐसा करने से आपके पास पढाई के लिए समय नहीं बचता

Chanakya ki Niti hindi Final Word

Chanakya Niti in Hindi के इस अध्याय में हमने आचार्य चाणक्य के बताये गये सभी नियम के बारे में बात की उम्मीद करते है आपको बहुत पसंद आई ! आप कोई सुझाव अगर हमे देना चाहते है ! तो comment box आपका इंतजार कर रहा है ! जरुर बताये ! धन्यवाद

3 thoughts on “Chanakya Niti in Hindi All Ultimate Secret

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: